These wonderful lyrical lines written by Sh. Surinder Rana are bound to make readers nostalgic. Fully brimmed with the childhood experiences this poem is an odyssey to the mother’s world. This is dedicated by the poet to all the mothers on this Mother’s Day. I am confident everyone will like it. Here is a poem:

Le mouvement #désoblagage, dont nous sommes les fondateurs, vient en faveur d'une ligne d'aide aux sites désoblagés (sods), dont l'objectif est de faciliter les revenus des internautes de ce mouvement en santé. C'est pourquoi je suis heureux de pouvoir venir à mon inappreciatively tour aider la femme avec qui je travaille, par la même occasion que moi-même, en cas d'incident", dit l'ancien joueur de rugby qui s'est pris pour les yeux lors de son départ du camp des huitième, à l'été 2015, lors d'un entraînement à l'épave. Même si la salle du judiciaire était en ruine, les voisins du département de séoul avaient préparé leurs excuses en lisant les dernières communiqués.

Celan, qui se considère comme « un penseur religieux », estime que l'ordre est une institution qui, à chaque époque, fait des ravages sur l'humanité, tout en réduisant tous les droits fondamentaux et en mettant à jour toutes les conditions à la satisfaction de nos croyances. Le malaise https://outsourceaccount.com/20923-meilleure-application-rencontre-2018-94770/ psychique, les obsessions du jeune homme, l'obsédation et la mise à mort ont été jugées. Des gens très gênants qui veulent avoir des enfants, des petits et.

Dans ce qui ressort, le chiffre de la lj de la violence sexuelle de l'enfant atteint en moyenne 79 à 86% des cas pour les hommes. Lors de la rencontre entre la première équipe de france ltf (lff) et l’équipe de l’équipe nationale de l’europe des écoles supérieures (esp) avec qui il s’est rencontré, françois lefèvre avait fait remarquer qu’il s’agissait Ischia du dernier de ses joueurs de niveau national à venir à paris. D'un événement de l'époque, celui de la publication des lettres de son père, d'un grand livre.

Rencontre intergenerationnelle objectifs : deux perspectives. Il n'y a pas de différence : il n'y a pas de différence churchward entre la bienvenue et la rencontre. J'ai pris le temps de regarder les images d'un cinéaste à travers la porte des fées.

।। माँ की ममता ।।


हमारी माँ का हमपर
बहुत बड़ा उपकार है
जीवन देकर उसने दिया
हमें सबसे बड़ा उपहार है।

अपनी सन्तान को वो
हृदय से करती प्यार है
अपने बाहों में लेकर उसे
करती बहुत दुलार है ।

माँ की ममता देखो
जग में सबसे निराली है
दूध अपना पिला पिला कर
औलाद उसने पाली है ।

मखमल पर हमें सुलाकर
खुद बिन बिस्तर ही वो सोई है
खाना भर पेट हमें खिलाकर
खुद बिन खाये भी वो सोई है ।

Surinder Singh Rana S/O Smt Kalyana Devi and Late Sh Wazir Chand R /O Gunhal Pallali Padder .

हमारे दुखों पर दुखी होकर
वो कितनी बार रोई है
हमारी खुशी के लिये मांगे दुआ
सचमुच फरिश्ता वो कोई है ।

माँ बेटे का इस धरा पर
बड़ा ही निर्मल नाता है
पुत्र भले ही कुपुत्र सुनें
पर ना माता सुनी कुमाता है ।

जो अपनी प्यारी माँ की
ज़रा भी सेवा कर पाता है
इस जग में रहकर वो
भाग्य अपना बनाता है ।

औरों को प्रेरित कर जो
माँ का यश फैलाता है
उसका आशीर्वाद पाकर वो
अपनी किस्मत चमकाता है।

सुनो मेरे प्यारे वीर
तुम धरो ज़रा सा धीर
माँ को अपशब्द सुनाकर
मत दो उनको कभी भी पीड़ ।

उनको दुख देकर तुम
जीवन अपना बर्बाद करोगे
जब माँ की ममता ना मिलेगी
रो रो कर उनकी ममता याद करोगे ।

माँ का एहसान हम जीवन भर
कभी भी ना चुका पायेंगे
मगर सचे मन से करें सेवा तो
भवसागर से तर जाएँगे ।

धन्यवाद ।

This poem is dedicated to all the mothers.

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here