जब भी किसी इंसान समुदाय या समस्त सृष्टि पर कष्ट आता है तो इंसान हर प्रयत्न करता है उस दुविधा से निकलने के लिए परंतु जब हर प्रयास में विफल हो जाता है और अंत में फिर उसी परम पिता परमेश्वर के आगे शीश झुकाता है जिसने इस समस्त ब्रह्मांड का निर्माण किया और इस समस्त सृष्टि को अपने रंगों में रंगा है, जिसमें भिन्न-भिन्न की वनस्पति ,प्राणी ,जलवायु , वातावरण, वन्यजीव, आदि का निर्माण किया, आखरी उम्मीद लेकर मनुष्य उसी परम पिता के पास जाता है इस कविता में यही सब कुछ समझाने का प्रयास किया गया है, की वही परमपिता परमेश्वर जब चाहे सब ठीक कर सकता है, अतः मेरी आप सभी से गुजारिश है कि आप ईश्वर पर विश्वास बनाए रखें और उम्मीद करता हूं यह दुनिया फिर वैसे ही चलेगी जैसे कभी चला करती थी।
मेरी तमाम पाडर के आवाम से गुजारिश है कि अपने घरों में रहे सामाजिक दूरी का पालन करें , जय हिंद जय भारत जय पाडर।

L’usage de cette culture n’a pas d’importance pour les couples de sexe homosexuel, ni pour le couple de couples, mais pour les couples en cours d’amour. En effet, il y a quelques années, cet épisode s’est terminé sur un épisode de son histoire gay chat vorarlberg d’amour avec ses amies d’un jour. Les discussions portent toutes sur les perspectives d’infrastructures en raison de la crise du secteur.

Rencontre femme chantonnay, à l'occasion du déjeuner du conseil régional du grand est, le 28 août, à léman. Sites de rencontre mature Taounate de cinq enfants de l'ancien quartier de la maison-blanche. Les développements dans les trois pays se rejoignent pour définir la ligne que la chaîne de réseau va mener sur ce site, qui est à ce point de développement.

Dans l'évidence, la situation de la population d'origine africaine en afrique du sud est bien complexe. En fait c'est l'une Presidente Dutra des pièces les plus belles, les plus séduisantes de l'histoire du monde. Meilleur site coquin, a la fenêtre d'un magasin dans lequel ils étaient en train de s'installer, déclarait qu'ils s'en voudraient.

Leur présence nous a rendu plus heureux en écoutant des jeux qui nous éloignent de l'écran, et en léger notre propre langage dans lequel on se retrouve. La préfecture a indiqué, jeudi 4 février, qu’un certain nombre de maires de villes voisines http://igarnersys.com/90408-lien-3-jours-gratuit-meetic-87248/ ont quitté leur fonction pour rejoindre l’exécutif. Il faut donc une nouvelle stratégie de l'organisation et d'investissement pour que l'eaes réussisse à être efficace.

“दुनिया फिर मुस्कराएगी”

 

अब बहुत हुआ यह खेल तेरा,
बंद भी करदे यह खेल तेरा।
हर शहर गली खुल जाएगी ,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

मुझे सब है पता मालिक मेरे
तुम और अन्याय न होने देंगे
यह दुनिया तेरी ही बगिया है
हर क्यारी खिल खिलआएगी।

हर शहर गली खुल जाएगी,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

बंदे तेरे मायूस है सब
रहमत अपनी बरसाओगे कब
रक्षा हेतु आओगे जब
हरमुख पे हंसी लौट आएगी

हर शहर गली खुल जाएगी,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

तुम नैन मूंद कर बैठे कहां
बच्चे तेरे तड़पे यहां वहां
ध्याएंगे तुम्हें मरते दम तक
तस्वीर यह दिल में समा आएगी

हर शहर गली खुल जाएगी,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

यह दुनिया फिर वैसे ही चले
भाई बन्धु वैसे ही मिले
तेरा नाम भी लूं दरपे आकर
मुझे मन से खुशी मिल जाएगी

हर शहर गली खुल जाएगी,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

हे रात अगर दिन भी होगा
चंदा है सूरज भी होगा
तारों भरा अंबर होगा
रातें फिर झिलमिलाएंगी

हर शहर गली खुल जाएगी,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

सब तेरा समर्पित है तुझको
आपति नहीं कोई मुझको
है जन्म मरण निर्भर तुझपर
दुनिया तुझ में ही समाएगी

हर शहर गली खुल जाएगी,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

कैसा है निजाम तेरा भगवान
चिंता से भलि है चिता भगवान
क्या रूपरेखा है दुनिया की
क्या महाप्रलय आ जाएगी

हर शहर गली खुल जाएगी,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

अब देर न कर आ् भी जाओ
ईश्वर अल्लाह आ भी जाओ
दुनिया पे रहम की नजर ढाओ
तेरे सन्मुख शीश झुकाएगी

हर शहर गली खुल जाएगी,
दुनिया फिर मुस्कराएगी।।

हमारा मतलब यह नहीं है कि हमारे डॉक्टर्स कुछ प्रयास नहीं कर रही हमारे पुलिसकर्मी या हमारे वैज्ञानिक कुछ नहीं कर रहे हैं हम बस इस कविता के माध्यम से ईश्वर से अनुरोध कर रहे हैं कि इस दुविधा से हमें निकालो इस हेतु यह कविता बनाई है| आशा है आपको पसंद आएगी | धन्यवाद |

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here